आपदा में अवसर खोज लेते ‘गुरु’ लेखक और हुजूरी करते चेले

हिंदी में अभिनंदन काल पराकाष्ठा पर पहुंच चुका है. हर लाइक एवं कमेंट के साथ एक…