बाबा नागार्जुन या गुनगुन पर पक्ष बनकर न सोचें

मरने से किसी का दोष कम नहीं होता, लेकिन किसी पर आरोप लगाने भर से कोई…

सांस्कृतिक और सामाजिक चेतना का त्योहार है ‘उत्तरायणी’

सुबह के ‘ब्यांणी तार’ ने अभी विदाई ली थी। सुबह होने में अभी कुछ देर है।…

मातृवंशात्मक समाज में स्त्री

सभ्यता के आरंभिक इतिहास से यह ज्ञात होता है कि मानव समाज गुफाओं और कंदराओं में…

मृत्यु के 22 साल बाद बाबा नागार्जुन कथित तौर पर यौन शोषण के कटघरे में

मृत्यु के 22 साल बाद बाबा नागार्जुन पर कथित तौर पर यौन शोषण का आरोप लगा…

योगिता यादव की चर्चित कहानी- ‘नई देह में नए देस में’

 योगिता यादव ठाकुर साहब संस्‍कृति प्रेमी हैं। ठाकुर साहब कला प्रेमी हैं। ठाकुर साहब पुरातन प्रेमी…

गांधी के हत्यारे को देशभक्त बताकर क्या साबित करना चाहती हैं प्रज्ञा ठाकुर

प्रज्ञा का अर्थ बुद्धि और समझ से है। लेकिन राजनीति में प्रज्ञा ने अपना अर्थ खो…

हरिवंश राय बच्चन की 112वीं जयंती, उनकी वो कविता जिसके लिए मिला था साहित्य अकादमी

हिंदी के प्रसिद्ध लेखक और कवि हरिवंश राय बच्चन (Harivansh Rai Bachchan) की आज 112वीं जयंती…

पुराना जूता और इलाहाबाद स्टेशन- वकील के साथ मेरा किस्सा

मैं बेरोजगार था। अचानक एक दिन इलाहाबाद से फोन आया। नंबर सेव नहीं था। किसी भी…

मैं और कोई नहीं तुम्हारा ‘ख़त’ हूं

डियर, सभी ख़त लिखने वालों मैं और कोई नहीं तुम्हारा ‘ख़त’ हूं. शायद तुम खत लिखना…

धरती पर कैसे आया नृत्य बता रहे हैं ‘पारंपरिक नृत्य और सिनेमा’ किताब के लेखक